महिलाओं के अश्लील चित्रण रोकने के उपाय (Measures to Prevent Indecent portrayal of Women)

Posted on March 25th, 2020 | Create PDF File

hlhiuj

महिलाओं के अश्लील चित्रण रोकने के उपाय (Measures to Prevent Indecent portrayal of Women)-

 

* महिलाओं का अश्लील चित्रण बंद हो इसके लिए आवश्यक है कि इसके रोक से संबंधित वर्तमान कानूनों का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाए और यदि वे महिलाओं का अश्लील चित्रण रोकने में असमर्थ हों तो इन कानूनों में आवश्यक बदलाव किया जाना चाहिए।

 

* महिलाओं के अश्लील चित्रण के विरूद्ध जन जागरूकता अभियान चलाया जाना चाहिए। इसमें जनसंचार माध्यमों की बड़ी भूमिका है।

 

* समाज के स्तर पर सामाजिक कार्यकर्ताओं गैर-सरकारी संगठनों एवं महिला संगठनों को मिलकर इसके विरूद्ध आवाज उठाने की आवश्यकता है।

 

* महिलाओं को ऐसे विज्ञापन आदि नहीं करने चाहिए जिससे महिलाओं के सम्मान एवं गरिमा में गिरावट आती हो या उसका वस्तुकरण किया जा रहा हो।

 

* महिलाओं को यह स्वयं ही समझना होगा कि उनके लिए और समाज के लिए क्या सही है, क्या गलत है, क्या कानूनी है, क्या गैर-कानूनी है। महिलाओं के लिए आत्म संयम आवश्यक है।

 

* महिलाओं के अश्लील चित्रण से अब तक अप्रभावित लोगों का यह दायित्व बनता है कि इसके गिरफ्त में आ चुके लोगों को सही रास्ते पर लाएँ।

 

* जो महिलाएँ धन के मोह में अश्लील चित्रण को बढ़ावा देती हैं उन्हें यह समझना होगा कि वे अपने सशक्तिकरण का उपयोग इस रूप में न करें जिससे कि समाज पर दुष्प्रभाव पड़े।

 

* वैश्वीकरण के बावजूद संचार माध्यमों, मीडिया आदि द्वारा महिलाओं को उसी रूप में दिखना चाहिए जो भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों के अनुरूप है न कि पश्चिमी सांस्कृतिक मूल्यों के अनुरूप।