अर्थव्यवस्था समसामयिकी 3 (11-January-2021)
जन धन योजना
(Jan Dhan Yojna)

Posted on January 11th, 2022 | Create PDF File

hlhiuj

वित्त मंत्रालय के प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, ‘प्रधानमंत्री जन-धन योजना’ (PMJDY) के तहत खोले गए बैंक खातों में जमा राशि 1.5 लाख करोड़ रुपये को पार कर गई है।

 

योजना का प्रदर्शन (2021 तक) :

 

कुल ‘प्रधानमंत्री जन-धन योजना’ (PMJDY) खातों की संख्या 44 करोड़ से अधिक हो चुकी है।

 

54 करोड़ जन-धन खाते ग्रामीण और अर्ध-शहरी बैंक शाखाओं में खोले गए हैं।

 

29 दिसंबर, 2021 तक योजना के तहत महिला खाताधारकों की संख्या लगभग 61 करोड़ थी।

 

जमा की जाने वाली राशि के अलावा, छात्रवृत्ति, सब्सिडी, पेंशन और कोविड राहत कोष जैसे लाभ ‘प्रत्यक्ष लाभ अंतरण’ (Direct Benefit Transfer – DBT) के माध्यम से ‘जन धन बैंक खातों’ में जमा किए जाते हैं।

 

PMJDY :

 

15 अगस्त 2014 को घोषित ‘प्रधानमंत्री जन धन योजना’ (PMJDY) एक ‘राष्ट्रीय वित्तीय समावेशन मिशन’ (National Mission for Financial Inclusion) है, जो वहनीय तरीके से वित्तीय सेवाओं, बैंकिंग/बचत तथा जमा खाते, विप्रेषण, ऋण, बीमा, पेंशन तक पहुंच सुनिश्चित करता है।

 

उद्देश्य :

 

किफायती लागत पर वित्तीय उत्पादों और सेवाओं की पहुंच सुनिश्चित करना।

 

कम लागत तथा व्यापक पहुंच के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग।

 

योजना के मूल तत्व :

 

सभी के लिए बैंकिंग सुविधाएं (Banking the unbanked)- न्यूनतम कागजी कार्रवाई के साथ मूल बचत बैंक जमा (Basic Savings Bank Deposit- BSBD) खाता, आसान KYC, e-KYC, शिविर लगाकर खाता खोलना, जीरो बैलेंस और जीरो शुल्क पर खाता खोलना।

 

सभी के लिए सुरक्षा (Securing the unsecured)- 2 लाख रुपये के मुफ्त दुर्घटना बीमा कवरेज सहित व्यापारिक स्थलों पर नकद निकासी एवं भुगतान के लिए स्वदेशी डेबिट कार्ड जारी करना।

 

सभी के लिए वित्तीय सहायता (Funding the unfunded)- अन्य वित्तीय उत्पादों जैसे माइक्रो-इंश्योरेंस, उपभोग के लिए ओवरड्राफ्ट, माइक्रो-पेंशन और माइक्रो-क्रेडिट।

 

यह योजना निम्नलिखित 6 स्तंभों पर आधारित है :

 

बैंकिंग सेवाओं तक सार्वभौमिक पहुंच – शाखा और बैंकिंग सुविधादाता/सुविधाप्रदाता, प्रतिनिधि।

 

प्रत्येक परिवार के लिए 10,000/- रु. की ओवरड्राफ्ट सुविधा (OD) सहित मूल बचत बैंक खाता।

 

वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम- बचत को बढ़ावा देना, एटीएम का उपयोग, ऋण प्राप्त करने हेतु जानकारी, बीमा और पेंशन लाभ, बैंकिंग के लिए मोबाइल फोन का उपयोग करना।

 

क्रेडिट गारंटी फंड की स्थापना – भुगतान में चूक होने पर बैंकों के लिए गारंटी प्रदान करना।

 

बीमा – 15 अगस्त 2014 से 31 जनवरी 2015 के बीच खोले गए खातों पर 1 लाख रूपये तक का दुर्घटना बीमा तथा प्रधानमंत्री जन धन योजना के अंतर्गत 30,000 रुपये का जीवन बीमा लाभार्थी को उसकी मृत्यु पर सामान्य शर्तों की प्रतिपूर्ति पर देय होगा।

 

असंगठित क्षेत्र के लिए पेंशन योजना।

 

प्रधानमंत्री जन धन योजनामें नई सुविधाएं तथा विस्तार :

 

योजना के तहत, मुख्य ध्यान प्रत्येक घर में बैंक खाता के बजाय प्रत्येक गैर-खाताधारक व्यस्क व्यक्ति पर किया जायेगा।

 

RuPay कार्ड बीमा- 28 अगस्त 2018 के बाद खोले गए PMJDY खातों के लिए RuPay कार्ड पर मुफ्त आकस्मिक बीमा कवर को 1 लाख रु से 2 लाख रु किया जायेगा।

 

ओवरड्राफ्ट सुविधाओं में वृद्धि – ओवरड्राफ्ट सुविधाओं की सीमा में 5,000 रुपये से बढ़ाकर 10,000 रुपये की दो गुनी वृद्धि; 2,000 रुपये तक ओवरड्राफ्ट की बिना शर्त सुविधा। ओवरड्राफ्ट सुविधाओं के लिए ऊपरी आयु सीमा में 60 से 65 वर्ष तक की वृद्धि।